PE Ratio in Hindi : शेयर बाजार में P/E रेश्यो क्या होता हैं?

P/E Ratio Meaning in Hindi | P/E Ratio क्या है | What is PE Ratio in Hindi | P/E Ratio कैसे निकाले | P/E Ratio ke Fayde | FAQ

What is PE Ratio in Hindi: शेयर मार्केट में आपने टीवी, न्यूज़, अखबार आदि में पी/ई अनुपात (P/E Ratio) के बारे में जरूर देखें या सुने होंगे लेकिन आप में से कई लोगों को P/E के बारे में ज्यादा जानकारी शायद ना हो। इसीलिए आज के इस लेख में हम आपको P/E Ratio के बारे में उदाहरण के साथ पूरी जानकारी देने वाले हैं।

P/E Ratio Meaning in Hindi

शेयर मार्केट या निवेश की दुनिया में P/E अनुपात को किसी कंपनी के स्टॉक के सापेक्ष Price का मूल्यांकन करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है ।

यह शेयर मार्केट के निवेशकों को यह बताता है कि कोई कंपनी कितने रुपए कमा रही है और इन्वेस्टर उसे कितने रुपए देकर खरीदने में तैयार हैं ।

P/E Ratio क्या है?

P/E Ratio यानीकि Price to Earning Ratio यह एक फाइनेंशियल मैट्रिक है जिसका उपयोग किसी कंपनी के Relative value की गणना करने के लिए किया जाता है।

Price Earning Ratio जिसे P/E Ratio भी कहा जाता है, इसकी गणना केवल सूचीबद्ध कंपनियों के लिए की जा सकती है यह प्रति शेयर कमाई (Earning per Share) के लिए कंपनियों के शेयर की कीमत का अनुपात है।

इसकी गणना कंपनी के स्टॉक के वर्तमान शेयर मूल्य (Current Share Price) को उसकी प्रति शेयर आय (EPS) से विभाजित करके की जाती है।

P/E Ratio को सरल शब्दों में समझें तो मान लो कोई कंपनी अगर ₹1 कमाती है तो उसे आप कितने रुपए देकर खरीदने की इच्छा रखते हैं।

उदाहरण के लिए मान लीजिए किसी कंपनी का P/E Ratio 20 है तो इसका मतलब है कि निवेशक कंपनी द्वारा अर्जित किए गए आय के प्रति ₹1 के लिए ₹20 का भुगतान करने के लिए तैयार है।

P/E Ratio कैसे निकाले?

P/E Ratio की गणना करने के लिए निम्नलिखित फार्मूला है –

Market Price Per Share

P/E Ratio = ———————————————

Earning Per Share

उदाहरण – मान लीजिए किसी कंपनी “A” का शेयर प्राइस 1000 रुपए है व उसकी पिछले 1 साल में कमाई 100 रुपए है तो उस कंपनी का P/E Ratio होगा 10 ।

इसका मतलब यह हुआ कि आपको 1 रुपए कमाने के लिए कंपनी में 10 रुपए लगाना होगा या दूसरे भाषा में – इस कंपनी “A” में 1000 रुपए निवेश करने पर हमें 100 रुपए प्राप्त होंगे।

P/E Ratio से Investors को क्या फायदा होता है?

● P/E Ratio निवेशकों को यह विश्लेषण करने में मदद करता है कि उन्हें अपनी मौजूदा कमाई के आधार पर स्टॉक पर कितना इन्वेस्ट करना चाहिए।

● P/E Ratio यह भी दिखाता है कि क्या मार्किट कंपनी को ओवरवैल्यूएट कर रहा है या कम्पनी को कमजोर कर रहा है।

● P/E Ratio द्वारा किसी कम्पनी के शेयर सस्ते पड़ेंगे या महंगे इसका भी अनुमान लगाया जा सकता है।

● कम P/E या उच्च P/E अनुपात निवेशक को यह इंगित करता है कि कम्पनी की कमाई की तुलना में कीमत कम होगी या अधिक।

● P/E Ratio निवेशक को शेयर का चुनाव करने में भी मदद करती है।


नीचे 👇 पिन की गई वीडियो में PE रेश्यो के बारे में काफी अच्छे से समझाया गया है। इसलिए इस वीडियो को जरूर देखें।

© Pranjal kamra yt


FAQ – PE Ratio in Hindi

प्र: P/E Ratio क्या होता है?

ऊ: P/E Ratio किसी कम्पनी के शेयर की कीमत और उसकी कमाई का अनुपात होता है । इसका मतलब यह होता है कि अगर कोई कम्पनी 1 रुपये कमाती है तो उसके शेयर को आप कितने रुपये में खरीदने में इंटरेस्टेड है।

इन्हें भी पढ़ें:

• Top 5 Share Market Books In Hindi (2023)

Amir Kaise Bane (जानिए अमीर बनने का फॉर्मूला क्या है)

Nifty 50 ETF (जानें निफ्टी 50 ETF क्या है)

Intraday trading in Hindi (इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में जानकारी और टिप्स- 2023)

Rate this post

Leave a Comment