Net worth meaning in Hindi : जानें नेट वर्थ क्या होता है? – Wealthgif

Net worth meaning in hindi | नेटवर्थ के हिन्दी अर्थ | नेटवर्थ के विलोम और समानार्थी शब्द । नेट वर्थ की गणना | महत्व | पर्सनल नेट वर्थ क्या है | संपत्ति क्या है देनदारी क्या है | पर्सनल नेट वर्थ निकलें | FAQs

नेटवर्थ क्या होता है?

दोस्तों आपने कई दफा यह चीज नोटिस किया होगा कि जितने भी बड़े-बड़े आंत्रप्रिन्योर और और बिजनेसमैन हैं. उनकी वास्तविक फाइनेंशियल पोजिशन को हमेशा Networth के रूप में बताया किया जाता है. जो किसी तरह की सम्पति को दर्शाता है.

उदाहरण के लिए एलन मस्क का नेटवर्थ 187 बिलियन डॉलर है. जेफ बेजोस का नेटवर्थ 120 बिलियन डॉलर है। आपने कभी सोचा है, ये आखिर होता क्या है?

आज के लेख Networth meaning in hindi में हम उसी नेटवर्थ के बारे में चर्चा करने वाले हैं और जानने का प्रयास करेंगे कि नेटवर्थ किसे कहते हैं और इसको कैसे कैलकुलेट करते हैं. तो चलिए शुरू करते हैं.

नेटवर्थ मीनिंग इन हिंदी:

Networth‘ का हिंदी में अर्थ होता है ‘शुद्ध संपत्ति’ या ‘कुल संपत्ति’। किसी व्यक्ति या कम्पनी की वित्तीय स्थिति को बताने के लिए नेटवर्थ शब्द का उपयोग किया जाता है।

नेटवर्थ एक फाइनेंसियल मैट्रिक होती जो एक निश्चित समय पर किसी व्यक्ति या कंपनी के फाइनेंशियल वैल्यू को बताता है।

कुल सम्पत्ति (Assets) में से कुल देनदारी (Liabilities) को घटाया जाता है, इसके बाद निकलने वाली सम्पत्ति का मूल्य Net Worth कहलाता है।

Total Assets – Total Liabilities = Net Worth

In other words, Net worth is the total value of what an individual or company owns, minus what they owe.

Net worth meanings in hindi | नेटवर्थ के अन्य हिंदी अर्थ:

• कुल कीमत

• निवल संपत्ति

• शुद्ध संपत्ति

• निवल मूल्य

• आर्थिक स्थिति

Antonyms of Net worth | नेटवर्थ के विलोम शब्द:

• debt

• burden

• loss

• financial problem

Synonyms of Net worth | नेटवर्थ का समानार्थी शब्द:

• financial status

• value of all assets

• net wealth

• assets minus liabilities

• total assets

• net asset

• equity

• net asset value

नेट वर्थ की गणना कैसे करते हैं?

• अगर आपको किसी कंपनी या व्यक्ति के नेटवर्थ की गणना करनी है तो उसकी Total assets में से Total liabilities को माइनस करना है यानी घटाना है। आपको उसकी नेटवर्थ का पता चल जाएगा।

• नेट वर्थ की गणना करना कोई मुश्किल काम नहीं है यह बहुत सरल है. नेट वर्थ की गणना करने का फॉर्मूला यह रहा

• Total Assets – Total Liabilities = Net Worth

नेटवर्थ के बारे में जानना क्यों जरूरी है?

• Net Worth के बारे में जानना बहुत जरुरी होता है क्योंकि यह आपको किसी व्यक्ति या संस्था की financial स्थिति कितनी मजबूत है उसको बताता है।

• नेट वर्थ के बारे में जानना शेयर बाजार में निवेश करने वाले निवेशकों के लिए सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है क्योंकि नेटवर्थ से किसी कंपनी की estimated value पता चलती है।

• निवेशकों को सही से आईडिया हो पता है कि एक्चुअल में कंपनी की कीमत कितनी है। इस कंपनी में निवेश करना उनके लिए लाभदायक होगा या नहीं और अगर किसी भी कारण से कंपनी बंद होती है. तो आगे चलकर कंपनी को लिक्विडेट (Liquidate) करने पर अर्थात कंपनी के असेट्स को बेचा जाता है तो उन्हें कितना वैल्यू मिलेगा।

• फाइनेंसियल प्रोग्रेस को ट्रैक करने के लिए नेटवर्थ एक उपयोगी टूल है।

• नेटवर्थ की नियमित रूप से गणना करके व्यक्ति या कंपनियां यह पता लगा सकती है कि, क्या वे अपनी Wealth बढ़ा रहे हैं या वे अधिक कर्ज ओढ़ रहे हैं और अपनी नेटवर्थ घटा रहे हैं।

• इस जानकारी का उपयोग विवेकपूर्ण वित्तीय निर्णय लेने और भविष्य के लिए लक्ष्य निर्धारित करने के लिए किया जा सकता है।

नेटवर्थ का जो कैलकुलेशन है, वह संपत्ति और देनदारियों पर आधारित होता है. इसलिए चलिए अब जानते हैं की संपत्ति और देनदारियां क्या होती है.

इससे नेटवर्थ के अर्थ को और अच्छे से समझने में आपको सुविधा होगी.

संपत्ति क्या है?

संपत्ति (asset) का अर्थ ऐसी चीजों से होता है जो आपको पैसा लाकर देती है। ऐसी चीजें जिनके आप मालिक हैं जिनसे आपको इनकम मिलती है और आगे चलकर जब आप इन्हें बेचोगे तो आपको लाभ होगा. इन चीजों को Assets यानि की संपत्ति कहा जाता है।

एसेट्स के उदाहरण: रियल एस्टेट, रेंटल प्रॉपर्टी, घर का सामान, बैंक में रखा पैसा, वाहन, इक्विटी और गहनें आदि

देनदारी क्या है?

देनदारी (Liability) से तात्पर्य ऐसी चीजों से है जो आपके जेब से पैसों को निकलती है। ऐसी चीजें जो आपसे खर्चा करवाती है देनदारियां अर्थात Liabilities कहलाती है।

लायबिलिटीज के उदाहरण: घर की किश्त, बिजली पानी के बिल, लोन एवम घरेलू खर्च आदि।

व्यक्तियों के लिए Assets के तहत आने वाली वस्तुऐं:

व्यक्तियों के लिए, संपत्ति (Asset) में आमतौर पर रियल एस्टेट, सेविंग्स,गहने, इन्वेस्टमेंट्स और पर्सनल प्रॉपर्टी जैसी चीजें शामिल होती है।

व्यक्तियों के लिए Liabilities के तहत आने वाली वस्तुएं:

दूसरी ओर देनदारियों (Liabilities) में मॉर्टगेज, Loan, EMI, क्रेडिट कार्ड ऋण जैसी चीजें शामिल होती है।

पर्सनल नेट वर्थ क्या है?

किसी व्यक्ति के व्यक्तिगत नेटवर्थ को personal networth कहा जाता है। इसमें उस व्यक्ति का 1. रियल एस्टेट प्रॉपर्टी जैसे- घर, ज़मीन जायदाद, दुकान। 2. वाहन जैसे की – कार, मोटर साइकिल, गहने, बचत के पैसे, म्यूच्यूअल फंड्स आदि और देनदारी या खर्चो में किसी भी प्रकार का लोन, क्रेडिट कार्ड बिल, EMI नियमित खर्चें आदि। ये सभी पर्सनल नेट वर्थ में शामिल होता है।

आपका निजी Personal Net Worth निकालने के लिए भी Assets में Liabilities को घटाया जाता है, इसके बाद जो बचता है, वह व्यक्ति का पर्सनल नेट वर्थ होता है।

पर्सनल नेट वर्थ कैसे निकालें?

पर्सनल नेटवर्थ की गणना करना बहुत आसान है अगर आप भी अपना personal net worth निकलना चाहते हैं तो नीचे बताए स्टेप्स को फॉलो करें:

स्टेप 1: सबसे पहले आपकी सभी संपत्तियों की एक लिस्ट बनाएं और साथ में उनकी वर्तमान मार्केट वैल्यू पता करके उसे भी नोट कर लें.

उदाहरण – रियल एस्टेट और उसका वर्तमान मूल्य, गहने और उनका मूल्य, बैंक में जमा पैसे, आपके इन्वेस्टमेंट्स का मूल्यआदि।

स्टेप 2: अब आपके सभी प्रकार के देनदारियों की एक लिस्ट बनाइये। जैसे – होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन, EMI, क्रेडिट कार्ड बिल, एवम अन्य जितने भी खर्चे हैं उन सबकी.

स्टेप 3: अब आपको ऊपर बताए फॉर्मूला का उपयोग करते हुए अपनी कुल संपतियो में से देनदारियों को घटाना होगा. घटाने के बाद जो अंतर आयेगा वही आपका पर्सनल नेटवर्थ है।

इसे एक उदाहरण से समझते हैं. आपकी तमाम संपत्ति 5 करोड़ रुपए है और आपकी तमाम देनदारी 3 करोड़ रुपए है तो आप की टोटल नेटवर्थ होगी 2 करोड़

Total Assets – Total Liabilities = Net Worth

Worth

₹ 5 करोड़ – ₹ 3 करोड़ = ₹ 2 करोड़

नोट: लेकिन यहां ध्यान रखने वाली बात यह है की यदि आपकी लायबिलिटीज आपके एसेट्स से ज्यादा हैं ( अर्थात खर्चे ज्यादा आमदनी कम है) तो इस स्थिति में आपकी नेटवर्थ माइनस में चली जायेगी। आपकी नेटवर्थ जीरो होगी।

तो दोस्तों इस तरह से आप अपनी खुद की पर्सनल नेटवर्थ निकाल सकते हैं।

कंपनी का नेटवर्थ:

• नेटवर्थ किसी कंपनी के टोटल वैल्यू को Represent करता है। (देनदारियों को घटाने के बाद जो वैल्यू बचता है उसका प्रतिनिधित्व करता है)

• कंपनियों के लिए नेटवर्थ को शेयर धारक इक्विटी के रूप में भी जाना जाता है। यह कंपनी द्वारा अपनी सभी Liabilities चुकाने के बाद Assets की Value होती है।

कंपनी का नेटवर्थ कैसे पता करें?

कंपनियां तिमाही, छमाही या वार्षिक आधार पर Net Worth Statement या Balance Sheet जारी करते है जिसमें कंपनी का संपूर्ण आर्थिक विवरण होता है।

इसे पढ़कर आप कंपनी के आर्थिक स्थिति और नेटवर्थ के बारे में पता कर सकते हो

नेटवर्थ कैसे बढ़ाएं?

• कोई व्यक्ति निम्न चीजों से अपना नेटवर्थ बढ़ा सकता है, saving money, paying off debt और ऐसी संपत्तियों में निवेश जिनकी वैल्यू समय के साथ बढ़ेगी।

• और कंपनियां अपनी रेवेन्यू को बढ़ाकर, देनदारियों को घटाकर और लाभदायक प्रोजेक्ट्स में निवेश के माध्यम से अपनी नेटवर्थ को बढ़ा सकते हैं।

• ऐसा करने से धीरे-धीरे कुछ समय बाद net worth में इजाफा होने लगेगा और साथ में फाइनेंशियल कंडीशन भी बेहतर होने लगेगी।

महत्वपूर्ण तथ्य:

इन सबके अलावा यह बात भी ध्यान में रखना महत्वपूर्ण है कि नेटवर्थ किसी व्यक्ति या कंपनी के फाइनेंशियल हेल्थ का सिर्फ एक पहलू है। वैसे एक positive net worth होना एक अच्छी चीज है लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि कोई व्यक्ति या कंपनी आर्थिक रूप से सुरक्षित है। (financially secure hai)

अन्य कारक जैसे कि, Cash flow, income और spending habits भी financial well-being की गणना करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

FAQ

प्रश्न: नेटवर्थ क्या है?

उत्तर: नेटवर्थ एक फाइनेंसियल मैट्रिक है जो एक निश्चित समय पर किसी व्यक्ति या कंपनी के फाइनेंशियल वैल्यू को मापता है।

प्रश्न: नेटवर्थ फार्मूला

नेट वर्थ की गणना करना कोई मुश्किल काम नहीं है. नेट वर्थ की गणना करने का फॉर्मूला यह रहा: Total Assets – Total Liabilities = Net Worth

प्रश्न: नेट वर्थ के लिए दूसरा शब्द क्या है?

उत्तर: बिजनेस में नेटवर्थ को शेयर धारक इक्विटी या बुक वैल्यू के नाम से भी जाना जाता है।

Final Words:

नेटवर्थ किसी व्यक्ति या कंपनी के वित्तीय मूल्य को मापने के लिए एक उपयोगी मेट्रिक है। नेटवर्थ को नियमित रूप से ट्रैक करके व्यक्ति और कंपनियां यह पता कर सकती है कि क्या वे अपनी वित्तीय लक्ष्यों की दिशा में प्रगति कर रहे हैं या नहीं। और अपने फाइनेंशियल हेल्थ में सुधार करने के लिए विवेकपूर्ण निर्णय ले सकते हैं।

इस लेख में हमने आपको Networth meaning in Hindi औरNet worth Kya hota Hai के बारे में बहुत बेहतरीन तरीके से बताया. आशा है आपको हमारा यह लेख जरूर पसंद आया होगा।

हमने आपके लिए इस साइट में और भी अच्छे-अच्छे लेख लिखे हैं, समय निकल कर उन्हें भी पढ़ने का आनंद जरूर लें।

नेटवर्थ के बारे में आपने जाना,

Hindi meaning of networth, net worth meaning in hindi, net worth translation in Hindi language, net worth translation in Hindi,

net worth definition, net worth का हिन्दी अनुवाद, networth का मतलब हिंदी में जाने. net worth ka matalab hindi me, What is net worth meaning in Hindi

Rate this post

Leave a Comment